Home > Madhubun Reading Club > Suno, Sunao ( Kahani Sangraha )
Suno, Sunao ( Kahani Sangraha )

Suno, Sunao ( Kahani Sangraha )

कहानी का बच्‍चों के जीवन से गहरा संबंध होता है। कहानी में किसी घटना को इस तरह प्रस्तुत किया जाता है जिससे पठन में रुचि जाग्रत हो और शिक्षा भी मिले। प्राचीनकाल में शिक्षा भी कहानियों द्वारा दी जाती थी।

      सुनो-सुनाओ में ए.डब्ल्यू.आई.सी. (AWIC) द्वारा पुरस्कृत ग्यारह कहानियाँ शामिल की गई हैं। कहानियों द्वारा 10 से 14 वर्ष के बालक-बालिकाओं में पठन के प्रति रुचि जाग्रत करने का प्रयास किया गया है। कहानियों की भाषा सरल और सहज होने के कारण बाल जगत में उसका एक अलग स्‍थान है।

Book Details

';सुनो-सुनाओ' कहानी-संग्रह का संपादन सुश्री मनोरमा जफ़ा और सुश्री नीलिमा झा ने किया है।