product detail

Utkarsh Hindi Pathmala (CBSE Edition)

author: Rama Gupta, Virendra Jain, Dr Pradeep Kumar jain

Supporting Material: Available

उत्कर्ष हिंदी पाठमाला वर्ष 2014 में प्रकाशित होनेवाली नवीन श्रृंखला है। इसमें ‌C.B.S.E. तथा  ICSE के सभी दिशानिर्देशों का पालन किया गया है। ‌Learning Without Burden को ध्यान में रखते हुए यह पाठमाला Text-cum-workbook पद्‌धति पर तैयार की गई है। इस पाठमाला में परंपरा का निर्वाह और आधुनिकता का समावेश सहज ढंग से किया गया है।

राष्‍ट्रीय पाठ्यचर्या ‌(N.C.F. 2005), N.C.E.R.T., C.B.S.E. तथा  ICSE के दिशानिर्देशों के अनुरूप तैयार की गई इस पाठमाला में केंद्रीय हिंदी निदेशालय द्‌वारा निर्धारित मानक वर्तनी का उपयोग किया गया है। हिंदी साहित्य की  विविध विधाओं का समावेश किया गया है। पुस्तक के आरंभिक पृष्‍ठों पर पाठ-मूल्यांकन, पाठ्यक्रम एवं अंक-विभाजन के साथ ही ‌O.T.B.A. (Open Text Based Assessment) की विस्तृत जानकारी दी गई है। पाठों का निर्माण हिंदी सहित विभिन्न भारतीय और विदेशी भाषाओं की रचनाओं से किया गया है। प्रसिद्‌ध लेखकों की रचनाओं के साथ ही च‌र्चित एवं गणमान्य व्यक्तियों के जीवनोपयोगी प्रेरक-प्रसंग या लेख भी शामिल किए गए हैं। शिक्षार्थी रचनात्मक गतिविधियों के माध्यम से अपना‌ विकास कर सकें इसलिए पाठों की संख्या अपेक्षाकृत कम रखी गई है। प्रवेशिका, भाग-‌1 और ‌2 में बहुरंगी सुंदर चित्रों द्‌वारा वर्णमाला और मात्राओं का ज्ञान कराया  गया है। भाग-‌3 से भाग-‌8 तक प्रत्येक पाठ में Òआज का विचारÓ ‌Valuable Thoughts के रूप में महान लोगों के सूक्‍तवाक्य और कहावतें शामिल की गई हैं।

पाठ-अभ्यास में VBQ, HOTS, M.I. और Web Links दिए गए हैं। इसके अतिरिक्‍‌त ‌सम-सामयिक विषयों पर अपठित गद्‌यांश, पद्‌यांश, लेखक-परिचय, मनोरंजक सामग्री, चिंतन तथा अध्ययन कौशलों का पर्याप्‍त समावेश किया गया है।

पाठों का आरंभ ‘आप जानते ही हैं’ उपशीर्षक से इस विश्‍वास के साथ किया गया है कि शिक्षार्थी पहले से ही बहुत कुछ जानते हैं। फिर ‘पाठ-प्रवेश’ के रूप में पाठ के पठन के प्रति जिज्ञासा का भाव जगाया गया है। पाठ समा‌प्‍ति पर ‘इस पाठ से हमने जाना’ उपशीर्षक के अंतर्गत पाठ के भाव-सार की आवृत्‍ति की गई है। अभ्यासों के अंत में ‘यह भी जानिए’ तथा ‘चलते-चलते’ शीर्षक के अंतर्गत कुछ अतिरिक्‍त ‌जानकारियाँ दी गई हैं।

ICT को शैक्षिक परिवेश का हिस्‍सा बनाया गया है। शिक्षा में उपकरणों एवं तकनीक (technique and tools) की उपयोगिता के लिए वेबसाइट्स, रचनाओं और पुस्तकों का भी उल्‍लेख किया गया है।

पाठ्यपुस्तक में सुझावित प्रश्‍नपत्र भी शामिल किए गए हैं

About Author

उत्कर्ष हिंदी पाठमाला प्रवेशिका, 1 और 2 की लेखिका श्रीमती रमा गुप्‍ता हैं। आप सरदार पटेल विद्‌यालय, नई दिल्ली में अध्यापिका रह चुकी हैं। वर्तमान में मधुबन संपादन विभाग से संबद्‌ध हैं। पूर्व में भी कई पाठ्यपुस्तकों के निर्माण में सहयोग दे चुकी हैं।

रमा जी ने अपने शैक्षणिक अनुभव और बाल मनोविज्ञान को ध्यान में रखकर इस पाठमाला की आरंभिक इन तीन पुस्तकों का निर्माण किया है, जो शिक्षार्थियों को ‌नई दिशा प्रदान करेगा। बच्‍चों की दुनिया से जुड़ी पठन-सामग्री को सरल, सहज और शिष्‍ट तरीके से उन तक पहुँचाना इनकी विशेषता रही है।

उत्‍कर्ष हिंदी पाठमाला भाग—3, 4, 5, 6, 7, 8 के लेखक हैं—शिक्षाशास्‍त्री वीरेंद्र जैन और डॉ. प्रदीप कुमार जैन। दोनों ही एन.सी.ई.आर.टी. की पाठ्यपुस्तक निर्माण समिति के सदस्य रहे हैं। इन दिनों एन.सी.ई.आर.टी. की जो पुस्तकें स्कूलों में पढ़ाई जा रही हैं, उनके निर्माण में इनका भी योगदान रहा है। मध्यप्रदेश साहित्य अकादमी एवं अन्य कई सम्मानों से सम्मानित वीरेंद्र जैन पिछले चार दशक से पत्रकारिता से जुड़े हैं। डॉ. प्रदीप कुमार जैन मॉडर्न स्कूल, बाराखंभा रोड, नई दिल्ली में वरिष्‍ठ हिंदी अध्यापक हैं। सदैव नई सोच एवं नवीनतम पठन-सामग्री के आधार पर पुस्तकों का निर्माण करना मानो इनके स्वभाव का हिस्सा बन चुका है। इनकी यही सोच पहली बार उभरकर आई थी मधुबन द्‌वारा सन् 2008 ‌में प्रकाशित ‘वितान हिंदी पाठमाला’ में जिसने हिंदी की पाठ्यपुस्तकों की निर्माण प्रक्रिया को ही आमूल परिवर्तित कर दिया था।

About the Series

उत्कर्ष हिंदी पाठमाला वर्ष 2014 में प्रकाशित होनेवाली नवीन श्रृंखला है। इसमें ‌C.B.S.E. तथा  ICSE के सभी दिशानिर्देशों का पालन किया गया है। ‌Learning Without Burden को ध्यान में रखते हुए यह पाठमाला Text-cum-workbook पद्‌धति पर तैयार की गई है। इस पाठमाला में परंपरा का निर्वाह और आधुनिकता का समावेश सहज ढंग से किया गया है।

राष्‍ट्रीय पाठ्यचर्या ‌(N.C.F. 2005), N.C.E.R.T., C.B.S.E. तथा  ICSE के दिशानिर्देशों के अनुरूप तैयार की गई इस पाठमाला में केंद्रीय हिंदी निदेशालय द्‌वारा निर्धारित मानक वर्तनी का उपयोग किया गया है। हिंदी साहित्य की  विविध विधाओं का समावेश किया गया है। पुस्तक के आरंभिक पृष्‍ठों पर पाठ-मूल्यांकन, पाठ्यक्रम एवं अंक-विभाजन के साथ ही ‌O.T.B.A. (Open Text Based Assessment) की विस्तृत जानकारी दी गई है। पाठों का निर्माण हिंदी सहित विभिन्न भारतीय और विदेशी भाषाओं की रचनाओं से किया गया है। प्रसिद्‌ध लेखकों की रचनाओं के साथ ही च‌र्चित एवं गणमान्य व्यक्तियों के जीवनोपयोगी प्रेरक-प्रसंग या लेख भी शामिल किए गए हैं। शिक्षार्थी रचनात्मक गतिविधियों के माध्यम से अपना‌ विकास कर सकें इसलिए पाठों की संख्या अपेक्षाकृत कम रखी गई है। प्रवेशिका, भाग-‌1 और ‌2 में बहुरंगी सुंदर चित्रों द्‌वारा वर्णमाला और मात्राओं का ज्ञान कराया  गया है। भाग-‌3 से भाग-‌8 तक प्रत्येक पाठ में Òआज का विचारÓ ‌Valuable Thoughts के रूप में महान लोगों के सूक्‍तवाक्य और कहावतें शामिल की गई हैं।

Salient Features

•    पाठ-अभ्यास में VBQ, HOTS, M.I. और Web Links दिए गए हैं। 
•    इसके अतिरिक्‍‌त ‌सम-सामयिक विषयों पर अपठित गद्‌यांश, पद्‌यांश, लेखक-परिचय, मनोरंजक सामग्री, चिंतन तथा अध्ययन कौशलों का पर्याप्‍त समावेश किया गया है।
•    पाठों का आरंभ ‘आप जानते ही हैं’ उपशीर्षक से इस विश्‍वास के साथ किया गया है कि शिक्षार्थी पहले से ही बहुत कुछ जानते हैं। 
•    ‘पाठ-प्रवेश’ के रूप में पाठ के पठन के प्रति जिज्ञासा का भाव जगाया गया है। 
•    पाठ समा‌प्‍ति पर ‘इस पाठ से हमने जाना’ उपशीर्षक के अंतर्गत पाठ के भाव-सार की आवृत्‍ति की गई है। 
•    अभ्यासों के अंत में ‘यह भी जानिए’ तथा ‘चलते-चलते’ शीर्षक के अंतर्गत कुछ अतिरिक्‍त ‌जानकारियाँ दी गई हैं।
•    ICT को शैक्षिक परिवेश का हिस्‍सा बनाया गया है। शिक्षा में उपकरणों एवं तकनीक (technique and tools) की उपयोगिता के लिए वेबसाइट्स, रचनाओं और पुस्तकों का भी उल्‍लेख किया गया है।
•    पाठ्यपुस्तक में सुझावित प्रश्‍नपत्र भी शामिल किए गए हैं|

Supporting Material

e-book— e-book में प्रत्येक पाठ का सस्वर वाचन, पठन, व्याकरण संबंधी प्रश्‍नों के उत्‍तर और शब्दार्थ दिए गए हैं। शब्द-भंडार में पर्यायवाची, विलोम, अनेकार्थी, समानार्थी, वाक्यांश के लिए एक शब्द, समश्रुतभिन्नार्थक, तत्सम और तद्भ्‍ाव  शब्द, मुहावरे, उपसर्ग और प्रत्यय शामिल किए गए हैं।

शिक्षक दर्शिकाएँ—पाठमाला की दर्शिकाओं में आधुनिक शिक्षण विधियाँ, सभी प्रश्‍नों के संभावित उत्‍तर और अभ्यासों के समाधान दिए गए हैं। दर्शिकाओं में अध्ययन-अध्यापन के विभिन्न सोपान भी दिए गए हैं और रचनात्मक गतिविधियों के लिए सुझावित बिंदुओं के एकाधिक समाहार और समाधान भी।

Web Support—www.websupport.madhubunbooks.com वेबसाइट पर अतिरि‌क्‍त worksheets ‌दी जा रही हैं जिनमें पाठों से जुड़े अर्थ-ग्रहण संबंधी प्रश्‍न, कुछ नए प्रश्‍नोत्‍तर और व्याकरण बिंदुओं से जुड़े प्रश्‍नोत्‍तर उपलब्‍ध कराए गए हैं।

CD : Teacher Support book  के साथ E-book और Animation युक्त CD उपलब्ध है। छात्र इसे info@madhubunbooks.com पर आग्रह भेजकर प्राप्त कर सकते हैं।

Utkarsh Hindi Pathmala - Praveshika

उत्कर्ष हिंदी पाठमाला वर्ष 2014 में प्रकाशित होनेवाली नवीन More..

isbn
9789325971387
price
254

Utkarsh Hindi Pathmala - 1

उत्कर्ष हिंदी पाठमाला वर्ष 2014 में प्रकाशित होनेवाली नवीन More..

isbn
9789352714094
price
340

Utkarsh Hindi Pathmala - 2

उत्कर्ष हिंदी पाठमाला वर्ष 2014 में प्रकाशित होनेवाली नवीन More..

isbn
9789352714100
price
362

Utkarsh Hindi Pathmala - 3

उत्कर्ष हिंदी पाठमाला वर्ष 2014 में प्रकाशित होनेवाली नवीन More..

isbn
9789352714117
price
397

Utkarsh Hindi Pathmala - 4

उत्कर्ष हिंदी पाठमाला वर्ष 2014 में प्रकाशित होनेवाली नवीन More..

isbn
9789352714124
price
397

Utkarsh Hindi Pathmala - 5

उत्कर्ष हिंदी पाठमाला वर्ष 2014 में प्रकाशित होनेवाली नवीन More..

isbn
9789352714131
price
398

Utkarsh Hindi Pathmala - 6

उत्कर्ष हिंदी पाठमाला वर्ष 2014 में प्रकाशित होनेवाली नवीन More..

isbn
9789352714148
price
400

Utkarsh Hindi Pathmala - 7

उत्कर्ष हिंदी पाठमाला वर्ष 2014 में प्रकाशित होनेवाली नवीन More..

isbn
9789352714155
price
400

Utkarsh Hindi Pathmala - 8

उत्कर्ष हिंदी पाठमाला वर्ष 2014 में प्रकाशित होनेवाली नवीन More..

isbn
9789352714162
price
400

Recently viewed

Utkarsh Hindi Pathmala (CBSE Edition)

© Copyright 2020 madhubun books. All Right reserved.