product detail

Sulekh Chitramala

author: .श्रीमती संयुक्‍ता लूदरा

Supporting Material: Available

सुलेख चित्रमाला

प्रवेशिका,1,2,3,4,5

About Author

इस श्रृंखला का निर्माण 'श्रीमती कनुप्रिया' और 'श्रीमती संयुक्ता लूदरा' भूतपूर्व रीडर, एन.सी..आर.टी. ने किया है।

About the Series

सुलेख या सुंदर लेख एक कला है। निरंतर अभ्यास से इस कला को निखारा जा सकता है। सुंदर लेख हर किसी को आकर्षित करता है। सुंदर लेख में अक्षरों की बनावट पर बहुत ध्यान दिया जाता है। Four Colour में आकर्षक Layout और Engage, Explore तथा Evaluate की थीम पर आधारित इस सुलेख पुस्तिका में लिखने के लिए भिन्न-भिन्न प्रकार की सामग्रियाँ दी गई हैं। रुचि उत्पन्न कराने के लिए विभिन्न प्रकार के खेलों और गतिविधियों का समावेश किया गया है। पहले सरल फिर कठिन रूप सिखाए गए हैं। लेखन के सभी पक्षों पर बल दिया गया है। संयुक्व्यंजन सिखाने के लिए मानक रूप प्रयुक् किए गए हैं। सरल और सरस भाषा प्रयुक् की गई है और चित्रों के माध्यम से विषय का ज्ञान दिया गया है।

 

इसके साथ ही पहली बार हिंदी सुलेख हेतु पेंसिल पकड़ने के सही तरीके, बैठने का ढंग तथा स्व-आकलन मापदंड दिए गए हैं। इसके साथ ही कक्षा 3 से 5 तक के विद्यार्थियों के लिए  पुस्तिका के अंत में सुंदर लेखन प्रमाण-पत्र भी उपलब् कराया गया है।

Sulekh Chitramala – Praveshika

Sulekh Chitramala – Praveshika 

isbn
978-93-5271-912-9
price
154

Sulekh Chitramala – 1

Sulekh Chitramala – 1

isbn
978-93-5271-913-6
price
154

Sulekh Chitramala – 2

Sulekh Chitramala – 2

isbn
978-93-5271-914-3
price
154

Sulekh Chitramala – 3

Sulekh Chitramala – 3

isbn
978-93-5271-915-0
price
154

Sulekh Chitramala – 4

Sulekh Chitramala – 4

isbn
978-93-5271-916-7
price
160

Sulekh Chitramala – 5

Sulekh Chitramala – 5

isbn
978-93-5271-917-4
price
160

Recently viewed

Sulekh Chitramala

© Copyright 2018 madhubun books. All Right reserved.